सेवानिवृत्त शिक्षक को मिला बकाया समर्पित अवकाश बिल राशि का भुगतान

'प्रसारण कीखबर का असर
ताल, (निप्र)। विगत १४ दिसंबर के अंक में 'उप कोषालय का बाबू रिटायर्ड शिक्षक बैरागी को सता रहा हैÓ के शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया था। समाचार प्रकाशन करते हुए सेवानिवृत्त शिक्षक रामप्रसाद बैरागी ( शा. क. उ. मा. वि. ताल) जिनका ३१ मार्च को सेवानिवृत्त होने के उपरांत स्वत्वों का भुगतान शासन के आदेशानुसार नहीं होते हुए शा. क. उ. मा. वि. ताल के संबंधित बाबू द्वारा समर्पित अवकाश बिल को उप कोषालय शाखा आलोट में नहीं लगाने से अवगत कराया गया था।
रामप्रसाद बैरागी ने 'प्रसारणÓ को जानकारी देते हुए बताया कि 'प्रसारणÓ में १४ दिसंबर को समाचार प्रकाशित होते ही तथा आपके द्वारा निरीक्षण दल प्रभारी को समस्या से अवगत कराए जाने के उपरांत समस्या की गंभीरता को देखते हुए तुरंत समर्पित अवकाश बिल उप कोषालय शाखा आलोट में लगते हुए संबंधित राशि का चेक आपको प्राप्त हो गया है। श्री बैरागी ने अपनी समस्या का समाधान होने पर 'प्रसारणÓ को साधुवाद दिया है।

Comments

एक और बैरागी का साधुवाद स्‍वीकार करें । इसलिए नहीं कि आपने एक बैरागी को उसके स्‍वत्‍व दिलवा दिए अपितु इसलिए कि आपने वह काम किया जिसमें आपको अपना कोई स्‍वार्थ नहीं था और ऐसे आदमी की मदद की जिसकी सुनवाई कहीं नहीं हो रही थी ।
इस पूरे प्रकरण में अधिक प्रसन्‍नता इस बात की कि 'मुद्रित' शब्‍द का प्रभाव अब भी हो रहा है ।
बडी आश्‍वस्ति मिली आपकी इस पोस्‍ट से ।
कुछ चुनिन्दा अख़बारों में ही यह निस्वार्थ कार्य देखने को मिलता है आपका+(प्रसारण का) बहुत बहुत धन्यवाद्

Popular posts from this blog

अब नहीं होती बाल सभाएं, केवल एक दिन चाचा नेहरू आते हैं याद

निरंतर लिखो, आलोचकों की परवाह मत करो -बैरागी

व्यंग्य: छुटभैये नेताजी और नाम